Thursday, 1 June 2017

पित्त की पथरी के लिये रामबाण नुस्खे | Gallstones Home Remedies in Hindi

दोस्तों आयुर्वेदिक नुस्खे में आपका स्वागत है आज हम आप को पित्त की पथरी (Gallstones) के बारे में बताएंगे।आजकल पथरी की समस्या बहुत आम हो गई है और यह एक भयंकर पीड़ादायक रोग है। आइये जानते है की कैसे होती है पित्त की पथरी। दोस्तों जब कोलेस्ट्रॉल और बिलरुबिन की मात्रा ज्यादा होजाती है तो इसे से पथरी का निर्माण होता है। और इस के कारण आप के पेट में असहनीय दर्द और उल्टी (vomit) भी हो सकती है। रोगी का खाना पचने में दिक्कत होने लगती है जिससे पेट में अपच (indigestion) और भारीपन रहता है।

Gallstones Home Remedies in Hindi


पित्त की पथरी के लिये रामबाण नुस्खे

पालक का रस - दोस्तों पालक कुदरत का वरदान है और ये अनेकों बीमारियों में बहुत फायदे मन्द साबित हुआ है।  अब हम आप को बताते है की पथरी में पालक कैसे इस्तेमाल करना है। पालक के साग का रस दस से बीस मिलीलीटर तक पीने से किसी भी तरह की पथरी समाप्त हो जाती है। 

नींबू का रस - नींबू के रस का प्रयोग काफी समय से आयुर्वेदिक दवाइयां बनाने में किया जाता है। और हम लोग भी इसे शरबत और सलाद में खाना बहुत पसंद करते है  है, आइये जानते है की पथरी में इसका इस्तेमाल किस तरह से किया जाये। दोस्तों एक गिलास गर्म पानी ले और उसमे एक नींबू निचोड़ ले और इसको रोजाना पिए इस से पथरी खताब हो जाएगी। नींबू का रस प्रकृतिक रूप से अम्लीय होने के कारण यह सिरके की तरह कार्य करता है और लीवर में कोलेस्ट्रॉल को बनने से रोकता है।

पथरी के दर्द और सूजन से राहत - जैसा कि मैं पहले ही बता चुका हम की पथरी का दर्द असहनीय होता है और सूजन भी काफी होती है आइये जानते है कि इस से कैसे छुटकारा मिल सकता है। मेरे साथियों प्याज, लहसुन, सरसों, महुआ और सहजन की छाल को पानी के साथ पीस केर दर्द और सूजन वाली जगह पर हल्के हल्के मले इस से दर्द नहीं होगा और सूजन भी काम हो जाएगी। 

शराब या बियर - शोधकर्ताओं ने पाया कि 1/2 गिलास शराब या बियर पित्त की पथरी के हमलों को लगभग पचास प्रतिशत तक कम कर सकता है। इसलिए शराब या बियर के एक गिलास को अपनी दिनचर्या में शमिल करें इससे ज्यादा इस्तेमाल न करे। यह केवल उनके लिए है जो कभी कभी शराब या बियर पीते है। मेरा आप से विनर्म निवदेन है की जो लोग शराब या बियर नहीं पीते है वो इसे न करे। 

लाल शिमला मिर्च - आहार में शिमला मिर्च को शामिल करें क्योकि 2013 में एक रिसर्च के अनुसार ये पता चला है कि लाल शिमला मिर्च में भरपूर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है जो कि पथरी की समस्‍या कम करता है। एक लाल शिमला मिर्च में लगभग 95 मिलीग्राम विटामिन सी होता है जो की पथरी को रोकने के लिए काफी होती है।

1 comment:

  1. With our research paper services, students are guaranteed quality services that are offered by professional writers are we are the best online dissertation writing service company.

    ReplyDelete